हर क्षेत्र में भारत-रूस संबंधों का विस्तार: PM मोदी

दिल्ली, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ वार्षिक द्विपक्षीय शिखर बैठक के लिए रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन दो दिवसीय भारत यात्रा पर गुरुवार शाम को भारत पहुंचे। पुतिन के साथ एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी आया है। दिल्ली के हैदराबाद हाउस में दोनों नेता की मुलाकात के साथ ही सम्मेलन शुरू हो गया है।

सूत्रों के अनुसार दिल्ला के हैदराबाद हाउस में नरेंद्र मोदी और पुतिन के बीच चल रही बातचीत के दौरान S- 400 डिफेंस डील पर सहमति बन गई है। पांच बिलियन डॉलर की इस मेगा डिफेंस डील से अब वायुसेना को 2020 तक S-400 मिसाइल मिल जाएगी। मोदी और पुतिन दोपहर 1.30 बजे ज्वाइंट प्रेस कॉन्फ्रेंस करके आधिकारिक तौर पर S-400 मिसाइल के करार की घोषणा करेंगे। इसके अलावा दोनों देश के बीच स्पेस को- ऑपरेशन को लेकर भी सहमति बनी।

Live Updates:

– हमारे संबंधों को नई ऊर्जा और नई दिशा मिलती है: PM मोदी

– हर क्षेत्र में भारत-रूस संबंधों का विस्तार: PM मोदी

– थोड़ी देर में संयुक्त रूप से प्रेस को संबोधित करेंगे पीएम मोदी और रूसी राष्ट्र्पति पुतिन।

– भारत और रूस के बीच अंतरिक्ष में सहयोग को लेकर समझौता। साइबेरिया के शहर नोवोसबिरस्क में मॉनिटरिंग स्टेशन बनाएगा भारत

– भारत और रूस के बीच S-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम को लेकर समझौता

दोनों नेताओं के ईरानी कच्चे तेल के आयात पर अमरीकी प्रतिबंधों सहित प्रमुख क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर भी विचार-विमर्श करने की संभावना है। क्रेमलिन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मंगलवार को कहा था कि इस यात्रा की खास बात एस-400 वायु रक्षा प्रणाली की आपूर्ति के लिए समझौते पर दस्तखत है और यह करार पांच अरब डॉलर का होगा।

रूस के साथ ये डील होने के साथ भारत दुनिया का तीसरा ऐसा देश बन जाएगा जिसके पास यह मिसाइल होगी। भारत से पहले रूस चीन और तुर्की के साथ डील कर चुका है। बता दें कि सऊदी अरब के साथ भी मिसाइल सिस्टम खरीद को लेकर बात चल रही है। 2015 से भारत और रूस के बीच इस डील पर बीत चील रही है। रूस के इस सिस्टम को कई देश खरीदना चाहते है ऐसा इसलिए क्योंकि इसे अमेरिका के थाड (टर्मिनल हाई ऑल्टिट्यूड एरिया डिफेंस) सिस्टम से बेहतर माना जाता है।

बता दें कि कल विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने उनकी अगवानी की। बाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने सरकारी आवास पर पुतिन के लिए व्यक्तिगत रात्रिभोज का आयोजन किया। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच द्विपक्षीय सहयोग और रणनीतिक मुद्दों सहित अन्य ज्वलनशील मुद्दों पर चर्चा हुई। प्रधानमंत्री मोदी ने रूसी और अंग्रेजी भाषाओं में ट्वीट किया, ‘भारत में आपका स्वागत है राष्ट्रपति पुतिन। हमारी बातचीत को लेकर उत्सुक हूं, इससे भारत-रूस संबंध और प्रगाढ़ होंगे।’

English
English