लश्कर ने दी उत्तराखंड और यूपी के कई स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी

हरिद्वार, रेलवे स्टेशन के स्टेशन अधीक्षक को लश्कर-ए-तैयबा के नाम से धमकी भरा पत्र मिला है। पत्र में उत्तराखंड और यूपी के कई स्टेशनों के अलावा, हरकी पैड़ी, चारों धाम और धार्मिक मजारों को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है।

20 अक्तूबर और 10 नवंबर को यह धमाके करने की बात लिखी गई है। प्रदेश के मुख्यमंत्री की कुर्बानी की बात कहते हुए सूबे को खून से रंगने की धमकी भी दी है। पत्र मिलने के बाद एसपी जीआरपी ने पत्र की जांच के आदेश दे दिये हैं। इधर, रेलवे सुरक्षा बल की ओर से भी पत्र मिलने के बाद अपने स्तर से पत्र के बाबत जानकारी जुटाई जा रही है।

हरिद्वार रेलवे स्टेशन अधीक्षक को पांच अक्तूबर को डाक से दोपहर को यह पत्र मिला। पत्र खोलते ही स्टेशन अधीक्षक के होश उड़ गये। पत्र आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के एरिया कमांडर मौलवी अम्बी सलमी किश्वतवाड़ा कश्मीर, के नाम से लिखा गया है।

पत्र में 20 अक्तूबर को हरिद्वार, देहरादून, रुड़की, लक्सर, काठगोदाम सहित उत्तराखंड के कई स्टेशनों के अलावा यूपी के रामपुर, मुरादाबाद, बरेली, सहारनपुर, अलीगढ़, मेरठ, मुज्जफरनगर को 20 अक्तूबर को बम से उड़ाने की धमकी दी है। पत्र में 10 नवंबर को हरकी पैड़ी, लक्ष्मण झूला, उत्तराखंड के चारों धाम, रुड़की के धार्मिक मजार के अलावा उत्तराखंड के मुख्यमंत्री की हत्या की बात लिखी है।

रेलवे सुरक्षा बल के प्रभारी प्रदीप ने बताया कि सतर्कता बढ़ा दी गई है। एसपी जीआरपी रोशनलाल शर्मा ने बताया कि पहले भी ऐसे कथित पत्र आये हैं। ये कुछ शरारती लोगों का काम हो सकता है। फिर भी सतर्कता बरती गई है। जांच के आदेश दे दिये गये हैं।

लश्कर-ए-तैयबा के अबकी दूसरे एरिया कमांडर के नाम से पत्र आया है। इससे पहले हरिद्वार एसएस, मोतीचूर, लक्सर, रुड़की को लश्कर का पत्र मिला था। उसमें भी यूके- यूपी के स्टेशनों और सीएम, राज्यपाल सहित धार्मिक स्थलों उड़ाने की धमकी दी गई थी। सभी पत्रों के लिखावट का मिलान किया गया था जिसमें ये बात सामने आई थी कि पत्र भेजने वाला एक ही शक्स है।

English
English