बसपा के पूर्व विधायक हाजी अलीम की गोली मारकर हत्या!

बुलंदशहर, सदर विधानसभा क्षेत्र से दो बार विधायक रह चुके और बसपा नेता हाजी अलीम का शव बुधवार को संदिग्ध परिस्थितियों में उनके घर में मिला है। उनके परिजनों का कहना है कि उनकी मौत ब्रेन हैमरेज से हुई है। लेकिन सिर में गोली लगी मिली है, वहीं शव के पास से पिस्टल भी बरामद की गई है।
मौत की खबर मिलते ही पुलिस समेत शहर के लोग उनके आवास पर पहुंच गए। बता दें कि हाजी अलीम की मौत के बाद शहर में कई तरह की चर्चाएं हो रही हैं, वहीं पुलिस कुछ भी साफ बताने से इनकार कर रही है।

जहां परिवार उनकी मौत ब्रेन हैमरेज की वजह से बता रही है वहीं नगर कोतवाल ने पुष्टि की है कि हाजी अलीम के सिर में गोली लगी है। परिजनों का कहना है कि उनका शव उनके कमरे से पाया गया और नाक-कान से खून निकल रहा था। पुलिस के आलाधिकारियों समेत फॉरेंसिक टीम मौके पर पहुंचकर जांच कर रही है।

हाजी अलीम बसपा के मजबूत नेता माने जाते थे। यही वजह है कि पार्टी के कई बड़े नेताओं की बुलंदशहर पहुंचने की उम्मीद है।

हाजी अलीम वर्ष-2007 से वर्ष-2012 और वर्ष-2012 से वर्ष -2017 तक सदर सीट पर बसपा के टिकट पर चुनाव जीते और विधायक बने। हालांकि वर्ष 2017 के चुनाव में वे अपनी कुर्सी नहीं बचा पाए।
अंतिम चुनाव में भी हाजी अलीम को 90 हजार से अधिक मत मिले थे। बसपा में उनकी मजबूत पकड़ थी। वेस्ट यूपी में हाजी अलीम का नाम गरीबों के हमदर्द के रूप जाना जाता था। वे धार्मिक आयोजनों में भी बढ़चढ़ कर हिस्सा लेते थे।

English
English