गाजियाबाद में बनेगा राजनीतिक प्रशिक्षण संस्थान, 50 करोड़ रुपये की राशि मंजूर

गाजियाबाद, सीएम योगी ने दिल्ली एनसीआर से सटे गाजियाबाद में राजनीतिक प्रशिक्षण संस्थान स्थापित करने की घोषणा की है। सीएम योगी की अध्यक्षता में बुधवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में गाजियाबाद में एक राजनीतिक प्रशिक्षण संस्थान स्थापित किए जाने को मंजूरी दे दी। यह देश का पहला ऐसा सरकारी संस्थान होगा जहां विधायक, पार्षद, युवा तथा अन्य राजनीति में प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेंगे।

गाजियाबाद जिले में इस संस्थान को बनाने के उद्देश्य से प्रदेश सरकार ने फिलहाल 50 करोड़ रुपये की राशि मंजूर की है। बताया जा रहा है कि संस्थान का निर्माण 60 बीघे जमीन पर किया जाएगा। संस्थान के निर्माण कार्य में कुल मिलाकर 198 रुपये का खर्च आएगा।


यूपी के ऊर्जा मंत्री और प्रदेश प्रवक्ता श्रीकांत शर्मा ने बताया कि अगले दो वर्षों में इस संस्थान में प्रशिक्षण प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। इस संस्थान में चलने वाले पाठ्यक्रमों की मान्यता के लिए विभिन्न अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालयों के साथ बातचीत भी की जा रही है।

डिग्री-डिप्लोमा भी दिया जाएगा

प्रदेश के शहरी विकास मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने दावा किया कि संस्थान राष्ट्रीय राजधानी के पास स्थापित किया जा रहा है। संस्थान में देश-विदेश के प्रमुख गणमान्य लोग तथा राजनीतिक दलों के प्रमुख यहां आएंगे। उन्होंने कहा कि छात्रों और अन्य लोगों को यहां से डिग्री-डिप्लोमा देश के प्रमुख विश्वविद्यालय से संबद्ध होने के बाद दिए जाएंगे।

English
English