कांग्रेस की ‘राम वन गमन पथ यात्रा’ पर रोक

मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने राम वन पथ गमन यात्रा का आयोजन किया है लेकिन अब इस यात्रा पर डिंडोरी जिला प्रशासन ने रोक लगा दी है। प्रशासन ने इस यात्रा को बिना इजाजत औरप राजनीतिक रैली बताते हुए रोक लगाई है। प्रशासन का कहना है कि यह धारा 188 का उल्लंघन किया गया है।

बता दें कि कांग्रेस ने 2 अक्टूबर को मध्यप्रदेश के चित्रकूट से राम वन गमन पथ यात्रा शुरू की थी। कार्यक्रम के अनुसार यात्रा को 15 दिनों में 35 विधानसभा क्षेत्रों से होकर गुजरना था लेकिन उससे पहले ही विधानसभा चुनाव की घोषणआ हो जाने के चलते प्रशासन ने इस पर रोक लगा दी है। कांग्रेस की यात्रा उसी मार्ग से होकर गुजरेगी जहां 14 साल के वन वास के दोरान भगवान राम गए थे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 2007 में राम पथ गमन मार्ग विकसित करने की घोषणा की थी, लेकिन यह घोषणा ठंडे बस्ते में चली गई थी। शिवराज सरकार ने इसके लिए समिति भी बनाई थी लेकिन समिति ने जो रिपोर्ट दी थी उसपर कोई काम नहीं किया गया। इसी के मद्देनजर कांग्रेस ने राम वन गमन यात्रा शुरू की थी।

एसडीएम अमित कुमार बम्हरोलिया ने जानकारी देते हुए बताया कि भाजपा के जिला उपाध्यक्ष टेकेश्वर साहू ने उन्हें लिखित में शिकायत की है। शिकायत में कहा गया है कि यात्रा के प्रभारी हरिशंकर के द्वारा मीडिया में दिए बयान में धार्मिक भावनाओं के माध्यम से कही न कही राजनैतिक अभिव्यक्ति का प्रचार प्रसार करने का प्रयास किया गया है क्योंकि उनके भाषा मे प्रदर्शित भी हो रहा है।

English
English