गाड़ी में ये Tag नहीं है तो आज रात 12 बजे से दिल्ली प्रवेश करना होगा मुश्किल

दिल्ली, आज यानी शुक्रवार, 23 अगस्त की रात 12 बजे से दिल्ली में प्रवेश करने वाली गाड़ियों को रेडियो फ्रिक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) टैग लगाना आवश्यक हो जाएगा। दिल्ली के 13 टोल नाकों में RFID के बिना गाड़ियों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

यदि कोई बिना RFID टैग लगाए दिल्ली में प्रवेश करता है तो उसको जुर्माना भरना पड़ेगा। ये भी खबर है कि किसी भी किमत पर अब RFID टैग लगवाने की तारीख को आगे नहीं बढ़ाया जाएगा।

इस सूचना की जानकारी मिलने के बाद से गुरुवार तक तकरीबन डेढ़ लाख RFID टैग की बिक्री हो चुकी है। बता दें कि इससे पहले ये टैग लगाने की आखिरी तारीख 16 अगस्त थी। लेकिन ट्रांस्पोर्टर व टैक्सी संगठनों के आग्रह पर निगम ने तारीख बढ़ा कर 23 अगस्त कर दी थी।



यदि अब कोई भी व्यवसायिक वाहन बिना RFID टैग के दिल्ली में प्रवेश करता है तो उसको पहले सप्ताह निर्धारित टोल राशि और पर्यावरण क्षतिपूर्ति शुल्क का दोगुना भुगतान करना होगा। इसके अगले सप्ताह ये भुगतान बढ़ा कर 4 गुना कर दिया जाएगा।

वहीं तीसरे सप्ताह तक भी अगर किसी ने RFID टैग नहीं लगाया तो उसे 6 गुना भुगतान करना होगा। RFID टैग लगवाने के लिए दिल्ली नगर निगम ने टोल वूसलने वाली कंपनियों के नंबर भी जारी किए हैं, जिससे वाहन चालकों को टैग लगवाने के लिए मुसीबतों का सामना न करना पड़े।

ये टैग लगवाने के लिए वाहनों के मालिक इन नंबरों पर कॉल कर सहायता ले सकते हैं- डीएनडीए के 7903176120, रजोकरी 9354320562 और केजीटी (कुंडली) 9205262947