ऑनलाइन धोखाधड़ी से बचना है तो पढ़िए ये आसान टिप्स

दुनिया में हर साल हजारों लोग ऑनलाइन फ्रॉड के शिकार होते हैं. पैसों से लेकर पर्सनल डेटा के लेवल तक लोग काफी कुछ ऑनलाइन फ्रॉड में गंवा देते हैं. कुछ साधारण कदम उठाकर आप ऑनलाइन फ्रॉड से बच सकते हैं. जानिए क्या हैं वो जरूरी कदम?



कभी भी वेबसाइट पर बैंकिंग या पेमेंट करने के दौरान आपको देखना चाहिए कि उस पर लॉक यानि ताले का निशान बना है? क्योंकि सुरक्षित वेबसाइट की पहचान यही है. अगर ऐसा नहीं है तो बिल्कुल रिस्क न लें.

कई बार ऑनलाइन हैक करने वाले पॉप अप विंडो, विज्ञापन और वॉर्निंग के जरिए फ्रॉड करने की कोशिश करते हैं. इसके लिए आप कभी पॉप अप पर अपनी निजी जानकारियों को साझा नहीं करें.

आप कॉल के जरिए भी फ्रॉड का शिकार बन सकते हैं. आपको हमेशा याद रखना होगा चाहें सामने से कोई भी कुछ क्यों न कहे, आपको कभी अपनी बैंकिंग डिटेल्स, OTP और दूसरी जानकारियां शेयर नहीं करनी चाहिए.

मोबाइल पर अगर अनजान नंबर से आपको मैसेज में कोई लिंक आए तो क्लिक न करें. क्योंकि इसके जरिए आपके मोबाइल में वायरस प्रवेश कर सकता है. जो आपकी निजी जानकारियां और बैंकिंग डिटेल्स चुरा सकता है.

बीमारी और दूसरी मानवीय समस्याओं से निपटने के लिए पैसे जुटाने की खातिर क्राउड फंडिंग का इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन कुछ लोग इसका इस्तेमाल फर्जीवाड़े के लिए भी करते हैं. इनके चंगुल में फंसने से बचने के लिए कई टिप्स हैं. जैसे कैंपेन ऑर्गेनाइजर का संबंध क्या है, पैसे जुटाने का मकसद और इसका इस्तेमाल कैसे होगा आदि.

अक्सर फ्री गिफ्ट कार्ड के चक्कर में हम लोग किसी भी अनजान मैसेज या लिंक पर क्लिक कर देते हैं. इसके चलते हम फ्रॉड के शिकार बनते हैं. गिफ्ट कार्ड के लिए सिर्फ अमेजन और गूगल जैसी बड़ी कंपनियों पर भरोसा करें.